Follow us

UP: हाल सीएम सीटी का, बारिश में पानी- पानी हुआ शहर

गोरखपुर (DVNA)। बीते 24 घंटे से हो रही झमाझम बारिश ने उमस भरी गर्मी से...
 
UP: हाल सीएम सीटी का, बारिश में पानी- पानी हुआ शहर

गोरखपुर (DVNA)। बीते 24 घंटे से हो रही झमाझम बारिश ने उमस भरी गर्मी से तो लोगों को राहत दे दी, लेकिन महज 24 घंटे की बारिश ने यहां नगर निगम और बिजली निगम के सभी दावों की पोल खोलकर रख दी। दूसरे दिन रविवार को भी बारिश की वजह से पूरा शहर पानी- पानी हो गया। तेज हवाओं के साथ हो रही बारिश की वजह से बिजली व्यवस्था भी पूरी तरह बेपटरी हो गई। कहीं पेड़ गिरने से ट्रांसफार्मर बंद हो गया तो कहीं उपकेंद्र में पानी भर जाने से बिजली की आपूर्ति बंद हो गई। लिहाजा सुबह से ही नगर निगम और बिजली कर्मचारी दौड़ते हुए नजर आ रहे हैं। तेज हवाओं के साथ हो रही बारिश की वजह से शहर के दर्जन भर से उपर के इलाके पानी में डूब गए। बेतियाहाता, दाउदपुर, बक्शीपुर, दीवान बाजार, पुर्दिलपुर, सुमेर सागर, विजय चौक, राप्तीनगर, राप्ती कॉम्प्लेक्स, तारामंडल रोड, असुरन, मेडिकल रोड, भेडियागढ़, गोरखनाथ, रामनगर, रामजानकीनगर, विकास नगर, विस्तार नगर, राजेंद्र नगर पश्चिमी सहित दर्जन भर इलाके सुबह से ही पानी में डूबे रहे। इन इलाकों के रह रहे लोगों का घरों से निकलना भी मुश्किल हो गया।
वहीं, असुरन, भेडियागढ़, राप्ती कॉम्प्लेक्स, रायगंज, मिर्जापुर सहित करीब एक दर्जन इलाकों में तो घरों और दुकानों भी पानी घुस गया। इससे लोगों का जन जीवन पूरी तरह प्रभावित हो गया। उधर, नगर निगम की टीम सुबह से ही जलभराव वाले इलाकों में पंपिंग सेट लगाकर जल निकासी के लिए मशक्कत कर रही है। वहीं, इस बारिश की वजह से शहर भर में करीब एक दर्जन पेड़ गिर गए। कार्मल स्कूल के पास पेड़ गिरने से पुलिस लाइन फीडर ब्रेक डाउन हो गया। यहां सुबह 9 बजे से बिजली नहीं है। राजेंद्र नगर में 33/11 केवीए लाइन भी ब्रेक डाउन हो गया। कर्मचारी सुबह 8 बजे से यहां आपूर्ति बहाल करने के लिए मशक्कत करते नजर आए। हालांकि यहां सुबह दो घंटे की मशक्कत के बाद यहां बिजली आपूर्ति बहाल कर दी गई। इसी तरह दिव्यनगर फीडर भी बारिश की वजह से सुबह से ही बंद हो गया। हालांकि करीब पौने दो घंटे के बाद यहां फाल्ट ढूंढकर आपूर्ति बहाल कर दी गई। एल्यूमिनियम फैक्ट्री फीडर में पानी भर गया। बक्शीपुर उपकेंद्र में भी पानी भर जाने से दीवान बाजार सुबह 6 बजे से ही बंद है। कर्मचारियों के मुताबिक फाल्ट मिल गया, लेकिन बारिश की वजह से बिजली आपूर्ति फिलहाल बहाल नहीं की जा सकी है। वहीं, 33 केवीए टाउनहाल और बक्शीपुर फीडर में भी सुबह से ही ब्रेकडाउन है। इसे ठीक करने के लिए जदृोजहद जारी है। वहीं, लगातार हो रही बारिश और सुबह से बिजली आपूर्ति ठप हो जाने से शहरवासियों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। रविवार की वजह से अधिकांश लोगों की छुट्टी तो रही, लेकिन टंकी में पानी नहीं होने से घरेलू काम पूरी तरह प्रभावित हो गए। वहीं, कई इलाकों में घंटों बिजली नहीं होने से उन घरों के इनवर्टर भी जवाब दे गए। ऐसे में लोगों के सामने बिजली और पानी का भी संकट खड़ा हो गया। जबकि जिन इलाकों के घरों और दुकानों में पानी घुस गए, वहां लोगों को काफी नुकसान भी उठाना पड़ा। नगर आयुक्त अविनाश सिंह ने बताया कि जलभराव वाले इलाकों में जल निकासी के लिए दो दर्जन से अधिक पंपिंग सेट लगाए गए हैं। अधिकांश इलाकों में पानी निकाला जा रहा है। जल्द ही स्थिति पूरी तरह सामान्य हो जाएगी। मैं खुद इन इलाकों का दौरा कर स्थिति का जायजा ले रहा हूं। नगर निगम की टीम लगातार जलभराव वाले इलाकों में मशक्कत कर रही है। जबकि अधीक्षण अभियंता एसई नगरीय ई. यूसी वर्मा ने बताया कि भोर में बारिश के कारण शहर के कई मोहल्लों की पेड़ गिरने और तार टूट गए। कई उपकेंद्रों में पानी भर जाने से बिजली आपूर्ति में व्यवधान आ गया। सूचना मिलते ही कर्मचारी लगाकर फाल्ट दुरुस्त कराकर आपूर्ति बहाल कर रहे हैं। कुछ क्षेत्रों में दोपहर 12 बजे तक आपूर्ति सामान्य हो गई। जबकि अन्य इलाकों में भी फाल्ट खोजकर बनाने का काम जारी है। जल्द ही आपूर्ति बहाल कर दी जाएगी।

From around the web

Trending Videos