Follow us

नौजवानों को अक्ल का अंधा बनाने के हो रहे प्रयास

चित्रकूट (DVNA)। नौजवान भारत सभा के कार्यकर्ताओं ने शहीद भगत सिंह के 114वें जन्मदिवस 28...
 
नौजवानों को अक्ल का अंधा बनाने के हो रहे प्रयास

चित्रकूट (DVNA)। नौजवान भारत सभा के कार्यकर्ताओं ने शहीद भगत सिंह के 114वें जन्मदिवस 28 सितम्बर पर शहीद भगत सिंह स्मृति अभियान के तहत शहीद भगत सिंह पुरस्कालय भैरमपुर में दी लीजेंड आफ भगत सिंह फिल्म दिखाई।
रविवार को नौजवान भारत सभा के सुरेश ने कहा कि शहीद भगत सिंह भारतीय इंकलाब के कीर्तिस्तम्भ हैं। वैचारिक तौर पर 23 साल की उम्र में जो स्पष्टता भगत सिंह के पास थी, वह अपने युग की सीमाओं का अतिक्रमण सा लगती है। गोरे अंग्रेजों ने उनके शरीर को मिटाया। वह आजादी के बाद से भूरे अंग्रेजों ने उनके विचारों को मिटाने की भरसक कोशिश की। उनकी पिस्तल वाली फोटो को तो जमकर प्रचारत किया जाता है। उनकी पुस्तकों व लेखकों को दबा दिया जाता है। हर सच्चा नौजवान भगत सिंह व उनके साथी क्रान्तिकारियों को प्यार करता है।
नौजवानों के लिए जरूरी है कि भगत सिंह के विचारों को जानें व उनके सपनों को पूरा करने में जुट जायें। भगत सिंह के 18 उद्धरणों का एक संकलन पेश कर रहे हैं। इस मौके पर रवि, राहुल, विद्यासागर, अमित, सचिन, रजनीश, कोमल, राजकरन आदि मौजूद रहे।

From around the web

Trending Videos