Follow us

दरगाह-ए-आलाहजरत से नेपाल भेजी गई मदद

बरेली-DVNA। हजरत अल्लामा अल्हाज अश्शाह मोहम्मद सुब्हान रजा खान सुब्हानी मियां और सज्जादा नशीन हजरत...
 
दरगाह-ए-आलाहजरत से नेपाल भेजी गई मदद

बरेली-DVNA। हजरत अल्लामा अल्हाज अश्शाह मोहम्मद सुब्हान रजा खान सुब्हानी मियां और सज्जादा नशीन हजरत मुफ्ती अहसान रजा साहब कादरी ने लाॅकडाउन और कोविड-19 की मार झेल रहे नेपाल के गरीब और बेसहारा लोगों के लिए एक मिसाली कदम उठाते हुए सुन्नी मुसलमानो की मदद के लिए सुन्नियत के केन्द्र दरगाह आला हजरत से एक प्रतिनिधिमंडल को राहत सामग्री के साथ नेपाल भेजा गया है प्रतिनिधिमंडल देश की सीमा से लगे दो जिलों कपिलवस्तु और बांके में राहत सामग्री वितरित करेगा।
इस संबंध में मीडिया प्रभारी नासिर कुरैशी ने बताया कि हजरत सुब्हानी मियां और हजरत मुफ्ती अहसान मियां को विश्वसनीय सूत्रों से पता चला था कि देश की सीमा के पास नेपाल के कुछ हिस्सों में बहुत से गरीब व मजदूर सुन्नी मुसलमान हैं। ऐसे बहुत से लोग हैं जो हर दिन कड़ी मेहनत करते हैं और हर दिन अपना चूल्हा जलाने का प्रबंधन करते हैं, लेकिन कोरोना वायरस और बार-बार के लॉकडाउन ने उनकी कमर तोड़ दी है और यह मजदूर वर्ग अत्यधिक अवसाद और बदतर हालत में जी रहा है।
यह रिपोर्ट मिलते ही दरगाह आला हजरत बरेली शरीफ के दरगाह प्रमुख हजरत सुब्हानी मियां साहब ने अहले-सुन्नत के मरकज से करीब तीन लाख रुपये की जरूरी खाद्य सामग्री के पैकेट बनवा कर मुफ्ती सलीम नूरी, मौलाना शहाबुद्दीन रजवी और मौलाना गुलाम मुस्तफा रजवी पर आधारित एक प्रतिनिधिमंडल के जरिए नेपाल भेज दिये है। राष्ट्रीय उलेमा परिषद नेपाल के सदस्यों के सहयोग से प्रतिनिधिमंडल पहले शुक्रवार 16 जुलाई को बांके जिले के लोगों के बीच शुक्रवार की नमाज के बाद मदीना नूरी मस्जिद और दारुल उलूम गुलशने मदीना नेपाल गंज परिसर में राहत सामग्री वितरित करेगा।
शनिवार 17 जुलाई को दोपहर ग्यारह बजे कपिलवस्तु जिले के कृष्णा नगर स्थित अलजामिअतुल -बराकतिया फॉर गर्ल्स के विशाल प्रांगण में हजरत सुब्हानी मियां साहब के प्रतिनिधिमण्डल व राष्ट्रीय उलेमा परिषद नेपाल के सहयोग से गरीब और परेशान हाल सुन्नी मुसलमानों के बीच मरकजे अअहले-ए-सुन्नत की राहत सामग्री वितरित की जाएगी ।उसी दिन दोपहर में चनरौटा की प्रसिद्ध रजा जामा मस्जिद और कपिलवस्तु जिले के मुख्य शहर चनरोटा में जामिया अहले-ए-सुन्नत मिस्बाह-उल-उलूम मिस्कीनिया के परिसर में राहत सामग्री के पैकेट वितरित करेंगे।
उसके बाद यह प्रतिनिधिमंडल तौलहवा जिला कपिवलवसतु जाकर राहत पैकेज का वितरण यहां के प्रसिद्ध केंद्रीय मदरसा जामिया इस्लामिया अहसनुल-बराकत के विशाल भवन में 18 जुलाई को सुबह 10 बजे करेगा साथ ही मरकज अहले-ए-सुन्नत खानकाह रजविया दरगाहे आलाहजरत के प्रमुख हजरत सुब्हानी मियां साहब के संदेश का प्रसारण भी किया जाएगा।
गौरतलब है कि इस पूरे राहत कारवां में नेपाल के गणमान्य व्यक्तियों राष्ट्रीय उलेमा कौंसिल नेपाल को भी सम्मिलित किया गया और उन्होने खुब मेहनत की।

From around the web

Trending Videos