शहरी क्षेत्रों में व्यापक रूप से पौधरोपण करने के लिए करें कार्य : कलेक्टर

शहरी क्षेत्रों में व्यापक रूप से पौधरोपण करने के लिए करें कार्य : कलेक्टर
 
शहरी क्षेत्रों में व्यापक रूप से पौधरोपण करने के लिए करें कार्य : कलेक्टर

राजनांदगांव :  कलेक्टर  डोमन सिंह ने कहा कि शासन के हर घर हरियाली अभियान के अंतर्गत सभी नगर पंचायतों में घर-घर पौधा वितरण करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि शहरी क्षेत्रों में व्यापक रूप से पौधरोपण करना है। जनप्रतिनिधियों के सहयोग से यह कार्य नगरीय निकायों में तेजी से करना है। हरेली त्यौहार के अवसर पर जिले के दो गौठानों में प्रतीकात्मक तौर पर मनाया जाएगा। इसके लिए आवश्यक तैयारी सुनिश्चित करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस दिन गौ मूत्र की खरीदी भी की जाएगी। उन्होंने कहा कि 21 जुलाई से कक्षा 10वीं एवं 12वीं में अध्ययनरत विद्यार्थियों के लिए नि:शुल्क कोचिंग सुविधा प्रारंभ की जा रही है। इसके अंतर्गत 10वीं के एवं विज्ञान एवं वाणिज्य संकाय के विद्यार्थियों को दी जाएगी। इसके लिए 204 स्कूलों में इंटरनेट कनेक्टीविटी की जानकारी ली गई है। उन्होंने इसकी तैयारी के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर ने सभी नगरीय निकायों में सिंगल यूज प्लास्टिक की जब्ती की कार्रवाई के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सभी नगरीय निकाय इस पर विशेष ध्यान देते हुए कार्य करें।

उन्होंने कहा कि नगरीय निकाय में एक एकड़ भूमि में निर्माणाधीन कृष्ण कुंज की साज-सज्जा अच्छी होनी चाहिए। इसके साथ ही वहां पौधरोपण करें। प्रकाश, पेयजल एवं शौचालय सहित अन्य सुविधाओं के संबंध में जानकारी ली। कलेक्टर ने जिले में हो रहे तेज बारिश के मद्देनजर मोगरा बैराज से छोड़े गए जल एवं अन्य बैराज में जल की स्थिति के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने जल संसाधन विभाग के अधिकारियों से कहा कि बैराज की लगातार मॉनिटरिंग करते रहें। पर्यटन क्षेत्र एवं अन्य आवश्यक स्थान जहां सड़कों को खतरे की वजह से बंद करना आवश्यक हो उन स्थानों में विशेष ध्यान देते हुए बंद करा दें। पीडब्ल्यूडी विभाग युद्ध स्तर पर सड़क के मरम्मत का कार्य करना सुनिश्चित करें। कलेक्टर  डोमन सिंह ने उक्त बातें साप्ताहिक समय-सीमा की बैठक में कहीं।


कलेक्टर  सिंह ने कहा कि बिहान मेला आयोजित करने के लिए महिला समूहों को चिन्हित कर लें। इससे समूह की महिलाओं को आर्थिक दृष्टिकोण से मजबूत होने के साथ ही सीखने का अवसर मिलेगा। हर मंगलवार को विकेन्द्रित जन-चौपाल के अंतर्गत जनसामान्य को जाति प्रमाण पत्र, ऋण पुस्तिका का वितरण अवश्य करें। साप्ताहिक समय-सीमा के लंबित प्रकरणों का लगातार निराकरण करते जाए इसके लिए गुरूवार को सभी विभाग शिकायतों के संबंध में जानकारी दें। उन्होंने कहा कि जिले में सभी ग्राम पंचायतों में शत प्रतिशत गौठान का निर्माण करना है। दूरस्थ क्षेत्रों के गौठानों में तीन गतिविधियां होनी चाहिए। गोबर खरीदी, वर्मी कम्पोस्ट निर्माण, सामुदायिक बाड़ी के साथ ही मुर्गीपालन एवं पशुपालन की गतिविधियां की जा सकती है। उन्होंने पशुपालन विभाग के अधिकारी से हर गौठान में पशुपालन के लिए गाय देने के लिए कहा। वन विभाग के गौठानों पर विशेष ध्यान देते हुए कार्य करने की आवश्यकता है। सभी जनपद सीईओ को गौठान में कार्य हेतु प्रस्ताव बनाने के लिए कहा। उन्होंने चारागाह निर्माण तथा सी-मार्ट में समूह की महिलाओं द्वारा निर्मित स्थानीय उत्पाद की बिक्री के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि सी-मार्ट के माध्यम से 5 लाख 50 हजार की लागत की सामग्री का विक्रय किया गया है। सभी विभाग सी-मार्ट के माध्यम से आवश्यक सामग्री की खरीदी करें। शासन की मंशा के अनुरूप समूह की महिलाओं को सी-मार्ट के माध्यम से सशक्त बनाकर बढ़ावा देना है।


कलेक्टर सिंह ने खाद एवं बीज की उपलब्धता के संबंध में जानकारी ली। उन्होंने कहा कि धन्वंतरी मेडिकल स्टोर्स में जेनेरिक दवाईयों के बिक्री के लिए सभी सीएमओ एवं बीएमओ निजी डॉक्टर की बैठक लें। कम कीमत पर नागरिकों को दवाईयां उपलब्ध कराने के लिए विशेष रूप से ध्यान देने की आवश्यकता है। टीकाकरण के गति बढ़ाते हुए कार्य करें। इसके लिए दल की संख्या बढ़ाए। स्कूलों में भी टीकाकरण के प्रति जागरूकता लाने के लिए प्रिकॉशन डोज जरूरी संबंधी निबंध प्रतियोगिता कराएं। इसमें स्कॉउड गाईड, एनसीसी एवं समूह की महिलाओं को जोड़े। उन्होंने मुख्यमंत्री सुपोषण अभियान की समीक्षा की। उन्होंने भवन विहीन आंगनबाड़ी केन्द्रों के संबंध में जानकारी ली।


हर घर झण्डा कार्यक्रम के तैयारी की स्थिति, पीजीएन जनशिकायत प्रकरण, जनचौपाल से प्राप्त शिकायतों का निराकरण, हाट बाजार टीम द्वारा जांच मरीज की संख्या की जानकारी, आजादी से अंत्योदय तक, राजीव युवा मितान क्लबों के निर्वाचन एवं खाता की जानकारी, नगरीय क्षेत्रों में 7500 वर्ग फुट अतिक्रमित भूमि के व्यवस्थापन की जानकारी, विशेष पिछड़ी जनजातियों के शिक्षित युवाओं को नियुक्ति दिये जाने के संबंध में, जल शक्ति अभियान, मुख्यमंत्री वृक्षोरपण प्रोत्साहन योजना, वन अधिकार अधिनियम के क्रियान्वयन हेतु गठित राज्य स्तरीय निगरानी समिति की बैठक, रेन वाटर हार्वेस्टिंग सिस्टम की स्थापना, ऑनलाईन समय-सीमा के बाहर के प्रकरणों की संख्यात्मक जानकारी के संबंध में समीक्षा की। इस अवसर पर जिला पंचायत सीईओ  गजेन्द्र सिंह ठाकुर, अपर कलेक्टर  सीएल मारकण्डेय, नगर निगम आयुक्त  आशुतोष चतुर्वेदी, संयुक्त कलेक्टर  इंदिरा सिंह,  निष्ठा पाण्डेय,  खेमलाल वर्मा, मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. मिथलेश चौधरी, एसडीएम अरूण वर्मा एवं अन्य जिला स्तरीय अधिकारी उपस्थित थे।

From around the web

Trending Videos