चिरमी मल्टीएक्टिविटी सेंटर में महिलाएं सीख रही रेशम धागाकरण

चिरमी मल्टीएक्टिविटी सेंटर में महिलाएं सीख रही रेशम धागाकरण
 
चिरमी मल्टीएक्टिविटी सेंटर में महिलाएं सीख रही रेशम धागाकरण

कोरिया : विकासखण्ड खड़गवां के चिरमी मल्टीएक्टिविटी सेंटर में महिलाओं ने फ़ूड प्रोसेसिंग की आजीविका शुरू की है जिसमें महिलाएं चावल, दाल, कोदो और धनिया की प्रोसेसिंग कर रही हैं। इसके साथ ही महिलाएं मल्टीएक्टिविटी सेंटर में रेशम धागाकरण का प्रशिक्षण ले रही हैं जिससे उन्हें बतौर रोजगार रेशम धागाकरण की आजीविका से जोड़ा जा सके।


कलेक्टर  कुलदीप शर्मा, एसपी प्रफुल्ल ठाकुर तथा जिला पंचायत सीईओ  कुणाल दुदावत ने बुधवार को मल्टीएक्टिविटी सेंटर में शुरू की गई नवीन गतिविधियों का अवलोकन किया। सेंटर में पोल एवं गमला निर्माण, कोदो प्रसंस्करण, अगरबत्ती निर्माण, मसाला उत्पादन, मिनी राइस मिल, रेशम धागा प्रसंस्करण का कार्य किया जा रहा है। कलेक्टर  शर्मा ने मसाला उत्पादन मशीन में धनिया प्रसंस्करण का कार्य कर रहीं वंदना स्व सहायता समूह की महिलाओं से प्रक्रिया, पैकेजिंग तथा विक्रय योजना की जानकारी ली। उन्होंने एनआरएलएम के जिला मिशन प्रबंधक को समूह के उत्पाद को सी-मार्ट में विक्रय हेतु भेजने के निर्देश दिए।

कलेक्टर ने देखी रेशम धागाकरण की प्रक्रिया महिलाओं का किया उत्साहवर्धन

रेशम धागाकरण कर रहीं महिलाओं ने कलेक्टर को मशीन के ज़रिए रेशम धागा निर्माण कर दिखाया, उन्होंने बताया कि यहाँ टसर कोकून से रेशम धागा बनाया जा रहा है। रोजगारोन्मुखी नवीन गतिविधियों की शुरुआत किए जाने पर प्रसन्न स्व सहायता समूह की महिलाओं ने कलेक्टर शर्मा को धन्यवाद दिया। कलेक्टर ने भी महिलाओं का उत्साहवर्धन किया।
इस दौरान कलेक्टर  शर्मा ने चिरमी गौठान में वर्मी एवं सुपर कम्पोस्ट खाद निर्माण तथा सामुदायिक बाड़ी में लगाए गए पौधों का भी अवलोकन किया। उन्होंने गौठान में उपस्थित लोगों से गांव की समस्याओं तथा आवश्यक सुविधाओं के संबंध में चर्चा की।

’कटकोना गौठान में महिलाओं ने कलेक्टर को वर्मी एवं सुपर कम्पोस्ट खाद निर्माण की दी जानकारी’
कटकोना गौठान में स्व सहायता समूह की महिलाओं से कलेक्टर कुलदीप शर्मा ने वर्मी एवं सुपर कम्पोस्ट निर्माण, विक्रय, तथा लाभांश की जानकारी ली। उन्होंने गौठान में संचालित अन्य गतिविधियों का भी अवलोकन किया। मुर्गी पालन का कार्य कर रहीं स्व सहायता समूह की महिलाओं ने बताया की अभी शेड में 70 मुर्गियां हैं, इन्हें पानी एवं दाना समय पर दिया जा रहा कुछ दिनों में ये विक्रय के लायक हो जाएंगे। कलेक्टर  शर्मा ने शेड में मुर्गियों के अनुकूल वातावरण निर्मित करने तथा मृत्यु की स्थिति में कारणों का चिन्हांकन करने के निर्देश दिए। इस दौरान उन्होंने वर्मी वॉश, टांको तथा निर्माणाधीन मशरूम तथा मुर्गी शेड का भी अवलोकन किया। गौठान में महिलाओं द्वारा संचालित मिनी दाल मिल तथा मिनी राइस मिल का निरीक्षण करते हुए कलेक्टर  शर्मा ने उत्पादन की जानकारी ली, महिलाओं ने बताया कि दाल निर्माण का कार्य जारी है तथा राइस मिल में भी जल्द कार्य शुरू किया जाएगा।

From around the web

Trending Videos