"हर घर तिरंगा" अभियान में प्रदेश के डेढ़ करोड़ से अधिक घरों पर लहराया जाएगा तिरंगा : CM चौहान

"हर घर तिरंगा" अभियान में प्रदेश के डेढ़ करोड़ से अधिक घरों पर लहराया जाएगा तिरंगा : CM चौहान
 
"हर घर तिरंगा" अभियान में प्रदेश के डेढ़ करोड़ से अधिक घरों पर लहराया जाएगा तिरंगा : CM चौहान

भोपाल : मुख्यमंत्री  शिवराज सिंह चौहान ने कहा है कि आजादी के अमृत महोत्सव में "हर घर तिरंगा" अभियान में प्रदेश के डेढ़ करोड़ से ज्यादा घरों पर तिरंगा झंडा लहराया जाना है। उन्होंने इस अभियान को जन-जन तक पहुँचाने के लिए व्यापक तैयारियाँ शुरू करने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री  चौहान आज केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री  अमित शाह और केन्द्रीय संस्कृति मंत्री  जी. किशन रेड्डी के साथ आजादी के अमृत महोत्सव अंतर्गत "हर घर तिरंगा" अभियान की वीडियो कांफ्रेंसिंग में शामिल होने के बाद निवास कार्यालय में अधिकारियों से चर्चा कर रहे थे। संस्कृति एवं पर्यटन मंत्री ऊषा ठाकुर, स्कूल शिक्षा राज्य मंत्री  इंदर सिंह परमार, मुख्य सचिव  इकबाल सिंह बैंस, अपर मुख्य सचिव गृह  राजेश राजौरा, प्रमुख सचिव संस्कृति एवं पर्यटन  शिव शेखर शुक्ला सहित अधिकारी उपस्थित थे।

मुख्यमंत्री चौहान ने कहा कि इस अभियान के संबंध में फिर से विस्तृत समीक्षा की जाएगी। इस अभियान को सफल बनाने के लिए सभी अधिकारी जुट कर कार्य करें और प्रदेशवासियों में अपने घरों पर तिरंगा झंडा फहराने के लिए जागरूकता लाएँ।

केन्द्रीय गृह एवं सहकारिता मंत्री अमित शाह ने राज्यों के मुख्यमंत्रियों से वर्चुअल चर्चा में कहा कि आजादी का अमृत महोत्सव हर नागरिक के लिए गौरव की बात है। "हर घर तिरंगा" अभियान ऐसा कार्यक्रम होगा, जो दुनिया में कभी नहीं मनाया गया होगा। केन्द्रीय मंत्री शाह ने कहा कि हर नागरिक के दिल में देशभक्ति की भावना को प्रबल करना और युवा पीढ़ी को देशभक्ति से ओत-प्रोत करना हमारा दायित्व है। सभी मिलकर जन-जन तक इस संदेश को पहुँचाने का कार्य करें।

केंद्रीय संस्कृति मंत्री  जी. किशन रेड्डी ने कहा कि "हर घर तिरंगा" अभियान भारत को जागृत करने का अभियान है। इसमें हर घर पर तिरंगा लहराकर देशभक्ति का संदेश पहुँचाना है। सभी राज्य सरकारें इसके लिए समन्वित प्रयास करें। लोग स्वयं भी झण्डा खरीद कर घरों पर लगाने के लिए आगे आएँ। उल्लेखनीय है कि आगामी 13-15 अगस्त तक देश के कम से कम 20 करोड़ घरों में तिरंगा लहराया जाने का प्रयास किया जाएगा। वीडियो कांफ्रेंसिंग में विभिन्न राज्यों के मुख्यमंत्रियों ने अपने विचार व्यक्त कर सुझाव रखे।

From around the web

Trending Videos