पोल की फॉल्ट सुधारने बांध के अंदर नाव से गए बिजली कर्मी

पोल की फॉल्ट सुधारने बांध के अंदर नाव से गए बिजली कर्मी
 
पोल की फॉल्ट सुधारने बांध के अंदर नाव से गए बिजली कर्मी

बेमेतरा :  भारी बारिश के चलते एक ओर जहां जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है। वहीं बिजली सप्लाई निर्बाध रखने में भी बाधाएं आ रही हैं। लगातार बारिश होने के कारण पोल एवं केबल टूट गए हैं तथा कुछ जगहों पर ट्रांसफार्मर एवं पोल पानी से घिर गए हैं या डूब गए हैं। परन्तु फिर भी विद्युत सप्लाई की व्यवस्था दुरुस्त करने की कवायद में विद्युत विभाग के कर्मचारी योद्धा की तरह अपनी जान की परवाह किये बिना जुटे हुए हैं। जरुरत पड़ने पर कभी नाव से तो कभी तैरकर फॉल्ट सुधारकर विद्युत व्यवस्था बहाल करने में लगे हुए हैं विद्युत कर्मी।


छत्तीसगढ़ स्टेट पॉवर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड, दुर्ग क्षेत्र के विभागीय संभाग बेमेतरा के अंर्तगत 11 के.व्ही नवागढ़ फीडर की लाईन 09 जुलाई 2022 फॉल्ट हो गई थी। जिसे सुधारने बांध के अंदर लाइन कर्मियों की टीम नाव से पहुंची। फॉल्ट के कारण ग्राम मुड़पार, बेमेतरा एवं चारभाठा खार की लाईन बंद हो गई। 11 के.व्ही. लाईन की पेट्रोलिंग करने पर मुड़पार बांध में एक नग पिन इंसुलेटर पंचर पाया गया। सहायक अभियंता गुलाब राम साहू ने बताया कि 11 के.व्ही लाइन बांध से गुजरी है। उन्होंने बताया कि मूसलाधार बारिश के कारण बांध में पानी अधिक है इसलिए नाव की व्यवस्था कर मौके पर पहुंचकर विद्युत कंपनी की टीम ने बड़ी सूझबूझ से पोल पर चढ़कर लाइन दुरुस्त किया, जिससे मुड़पार बस्ती में बिजली आपूर्ति बहाल की जा सकी। सहायक अभियंता गुलाब साहू ने बताया कि उक्त कार्य करने हेतु बेमेतरा (ग्रामीण) के सहायक लाइनमेन  सुगनचंद कोशले, लाइन परिचारक श्रेणी दो अमित गिरी एवं डामेश्वर नेताम की टीम तैयार कर लाइन सुधार हेतु भेजा गया था। उन्होंने बताया कि बारिश का पानी अधिक होने के कारण पोल तक नाव के सहारे जाना पड़ा। मुख्य अभियंता  एम.जामुलकर ने कहा कि लाइन कर्मचारी पॉवर कंपनी के आधार स्तंभ हैं जो जीवन संकट में डालकर सप्लाई व्यवस्था दुरुस्त करने में लगे रहते हैं। उन्होंने कहा कि विपरित परिस्थितियों में भी लाइन कर्मियों के सूझबूझ से कार्य करने का जस्बा प्रशंसनीय है। उच्च अधिकारियों द्वारा भी उनके इस कार्य की भूरी-भूरी प्रशंसा की जा रही है।

From around the web

Trending Videos