उत्कृष्ट प्रबंधन के लिए मुख्य अभियंता बघेल सम्मानित

उत्कृष्ट प्रबंधन के लिए मुख्य अभियंता बघेल सम्मानित
 
उत्कृष्ट प्रबंधन के लिए मुख्य अभियंता बघेल सम्मानित

भोपाल :  गत दिनों सतना क्षेत्र में आए हवा के बवंडर के कारण 132 केव्ही सतना मझगवां लाइन के धराशाई टावर को  संयोजित कर रिकॉर्ड 30 घंटे में विद्युत आपूर्ति बहाल करवाने के सूत्रधार अति उच्च दाब संधारण के मुख्य अभियंता  आर एस बघेल को उनकी इस उपलब्धि के लिए मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के प्रबंध संचालक इंजीनियर  सुनील तिवारी ने जबलपुर में  एक विशेष समारोह में सम्मानित किया।

ऊर्जा मंत्री  प्रद्युम्न सिंह तोमर भी उस समय सतना दौरे पर थे। उन्होंने भी इस  कठिन भौगोलिक स्थल पर  पहुँचकर  मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के प्रबंधन कौशल और कार्यशैली की सराहना करते हुए सभी कार्मिकों का मनोबल भी बढ़ाया था। साथ ही इतनी शीघ्रता से लाइन प्रारंभ किए जाने पर उन्होंने  बघेल की तारीफ की एवं मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी के सभी कर्मचारियों को धन्यवाद एवं बधाई दी।

उल्लेखनीय है कि गत दिवस सतना क्षेत्र में आए इस बवंडर के कारण मध्यप्रदेश पावर ट्रांसमिशन कंपनी का 132 केवी सतना मझगवां लाइन का एक टावर ग्राम  हिजहरी  के जंगलों में पूर्णतः क्षतिग्रस्त हो गया था तथा दो अन्य टावर आंशिक रूप से क्षतिग्रस्त हो गए थे। घटना की जानकारी मिलते ही मुख्य अभियंता  आर एस बघेल मात्र 4 घंटे के अंदर  सतना सहित अन्य संभागो की  सुधार टीमों के साथ क्षतिग्रस्त लोकेशन पर पहुँचे तथा संपूर्ण सुधार कार्य होने तक उन्होंने वही कैंप किया। उन्होंने अपनी उत्कृष्ट प्रबंधन क्षमता का कौशल दिखाते हुए रिकॉर्ड 30 घंटे के अंदर  क्षतिग्रस्त टावर के स्थान पर वैकल्पिक टावर स्थापना और क्षतिग्रस्त लाइनों की मरम्मत  का बेहद कठिनाई भरा काम पूरा करवाया। इससे 132 केवी सतना मझगवां लाइन पर विद्युत आपूर्ति पुनः प्रारंभ हो सकी।  

From around the web

Trending Videos