Follow us

स्वच्छ पेयजल की समस्या हुई दूर, घरों तक पहुंच रहा पानी

रायगढ़ : जिन गांवों में कल तक पीने के लिए पानी नदी, नालों एवं दूर...
 
स्वच्छ पेयजल की समस्या हुई दूर, घरों तक पहुंच रहा पानी

 रायगढ़ : जिन गांवों में कल तक पीने के लिए पानी नदी, नालों एवं दूर जाकर हैण्डपंप से लाना पड़ता था, आज वह जल की अमृत बुंदे जल जीवन मिशन से लोगों के घरों तक पहुंच रही है। अब पानी के लिए दूर तक जाना नहीं पड़ता, साल के सभी मौसमों में नल कनेक्शन से घर तक पानी पहुंच रहा है। घरेलू कामकाज के साथ दूसरी जरूरतों के लिए घर पर ही पानी मिलने से ग्रामीणों विशेषकर महिलाओं को बड़ी राहत मिली है।


विकासखण्ड पुसौर अंतर्गत ग्राम पंचायत लिंजीर जिला मुख्यालय से 12 किलो मीटर दूर पर स्थित है। इस ग्राम पंचायत की आबादी 1244 है। ग्राम में 365 परिवार निवासरत है। गांव में दो प्राइमरी एवं एक मिडिल स्कूल है तथा चार आंगनबाड़ी केन्द्र संचालित है। ग्राम लिंजीर में मुख्य बस्ती डीपापारा एवं नवाडीह शामिल है। पूर्व में शासन द्वारा यहां 3 हैण्डपंप स्थापित है जो कि ग्रीष्मकाल में जल स्तर नीचे जाने के कारण बंद हो जाते है। परिणाम स्वरूप अन्य नलकूपों में 9 नग सबमर्सिबल पंप लगा हुआ था। जिससे ग्राम के लोगों को पेयजल उपलब्ध हो रहा था। इन पंपों को ग्रामवासियों द्वारा लगातार चलाये जाने पर भू-जल का दोहन के साथ ही विद्युत ऊर्जा का असीमित दुरूपयोग हो रहा था।


जल जीवन मिशन के आने पर ग्राम सभा के माध्यम से ग्राम में कार्ययोजना तैयार किया गया। जिसमें हर घर को पर्याप्त मात्रा में शुद्ध पेयजल की उपलब्धता सुनिश्चित कराने का निर्णय लिया गया। कार्ययोजना में 2021 की आबादी 1244 मानकर 365 परिवारों के लिए घरेलू नल कनेक्शन हेतु जल जीवन मिशन अंतर्गत 42.65 लाख की कार्ययोजना बनायी गई। योजना अंतर्गत पानी टंकी निर्माण एवं सभी घरों में नल कनेक्शन का प्रावधान किया गया। मुख्य बस्ती से डीपापारा काफी ऊंचे जमीन पर स्थित है जिसके कारण पहले पर्याप्त जल क्षमता का नलकूप नहीं था। जल जीवन मिशन के अंतर्गत सभी परिवारों को नि:शुल्क नल कनेक्शन दिया गया। साथ ही जल संरक्षण के प्रति लोगों को प्रेरित किया गया कि आवश्यकता के अनुरूप नल चालू एवं बंद करें। कोई भी व्यर्थ पानी नहीं बहाए। घर से निकलने वाले भू-जल के निपटान के लिए मनरेगा से सभी घरों में सोख्ता गड्ढों का निर्माण किया जाना है। जिसके लिए क्रियान्वयन एजेंसी के द्वारा स्कूल, आंगनबाड़ी, जन प्रतिनिधि, महिलाओं, जनसमुदाय को लगातार प्रेरित किया जा रहा है।


शासन द्वारा संचालित जनहितैषी योजना जल जीवन मिशन आने से गांव में समस्त स्कूल, आंगनबाड़ी तथा पंचायत भवन में 15 वें वित्त से रनिंग वाटर की सुविधा की गई है। मध्यान्ह भोजन बनाने एवं बच्चों को पीने के लिए पर्याप्त मात्रा में पानी उपलब्ध हो रहा है। पहले गर्मी के दिनों में जल स्तर 250 फीट से अधिक हो जाता था, जिस कारण पानी के लिए बहुत ज्यादा परेशानी होती थी वह समस्या भी अब दूर हो गई है। भू-जल का दुरूप्रयोग भी बंद हुआ है। ग्राम पंचायत को पंप बार-बार बिगडऩे से होने वाली अतिरिक्त व्यय से भी मुक्ति मिल गई है। इस राशि का उपयोग ग्राम पंचायत के द्वारा अन्य कार्यों में किया जा रहा है। इस योजना से अब विद्युत ऊर्जा का भी अप्रत्यक्ष रूप से बचत होने लगा है।

From around the web

Trending Videos