Follow us

घर में काम करने वाली नाबालिग से एक साल तक करता रहा दुष्कर्म, प्रेगनेंट होने पर खुला मामला

इंदौर-DVNA। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के इंजीनियर का बेटा घर में काम करने वाली...
 
घर में काम करने वाली नाबालिग से एक साल तक करता रहा दुष्कर्म, प्रेगनेंट होने पर खुला मामला

इंदौर-DVNA। नेशनल हाईवे अथॉरिटी ऑफ इंडिया के इंजीनियर का बेटा घर में काम करने वाली एक नाबालिग सक एक साल तक दुष्कर्म करता रहा। 15 साल की नाबालिग से घर में बंधुआ मंजदूर के रूप में काम लिया जा रहा था। नाबालिग को सात महीने का गर्भ हो गया तो इंजीनियर के परिवार ने उसकी मौसी को धमकाया और कहा 600 रुपए लो और बच्ची को गोली खिला देना, आबर्शन हो जाएगा। इसके बाद नाबालिग की मौसी और परिवार में विवाद हो गया, फिर नाबालिग को मुंबई में आबर्शन के लिए भेजा गया।
जानकारी के बाद इंदौर चाइल्ड लाइन ने मुंबई चाइल्ड लाइन से संपर्क किया गया। मामले में जिला कोर्ट ने बयान दर्ज कर आरोपी को गत दिवस गिरफ्तार कर लिया। मामला राऊ थाना क्षेत्र के रॉयल कृष्णा टाउनशिप का है। बिलासपुर एनएचएआई में तैनात इंजीनियर शैलेन्द्र तिवारी का परिवार एक नाबालिग को घर में राकर उससे काम करवाता था। नाबालिग के रिश्तेदारों में केवल उसकी एक मौसी है, जबकि माता-पिता बचपन में ही उसे छोड़कर चले गए थे। अलग-अलग शादियां कर ली थीं। इंजीनियर परिवार का बेटा 22 साल के नैत्यराज तिवारी ने हाल ही में 12वीं पास की है। वह सालभर से किशोरी के साथ रेप कर रहा था। जब वह प्रेगनेंट हुई तो उसकी मौसी को इसका पता चला। इस पर जमकर विवाद हुआ। गत दिवस जिला कोर्ट से किशोरी के धारा 164 में बयान हुए। अहम यह कि किशोरी का आबर्शन किया जा सकता है या नहीं, दूसरा यह कि इसके लिए डॉक्टरों के ओपिनियन के साथ कोर्ट से अनुमति लेनी होगी। अभी उसे एक शेल्टर हाउस में रखा गया है।

From around the web

Trending Videos