Follow us

100 डायल की सहायता से परिवार से बिछड़ा बालक 3 घण्टे में मिला

भोपाल (डीवीएनए)। जेठ की दोपहर में चिलमिलाती धुप में नंगे बदन जंगल के खेतो में...
 
100 डायल की सहायता से परिवार से बिछड़ा बालक 3 घण्टे में मिला

भोपाल (डीवीएनए)। जेठ की दोपहर में चिलमिलाती धुप में नंगे बदन जंगल के खेतो में भटकते बालक को नापाखेडा निवासी रमेश डाँगी ने देखा जब उससे नाम पता पूछा को वह केवल कैलाश पिता मुकेश ही बता पाए तो उनकी पत्नी बोली कि यह रामलाल का बालक है उसे लेकर जब रामलाल के घर आए तो उन्होंने बताया कि यह तो हमारा बालक नही है तब गांव में किसी ने बालक की पहचान नही की तो 100 डायल को सूचना दी आरक्षक रणजीत सिंह, आरक्षक दीपक पाटीदार व 100 डायल चालक शिवपाल सिंह बालक को लेकर नापाखेडा, रणायरा व गर्रावद लेकर गए व जगह जगह पूछताछ की 3 घण्टे की मशक्कत के बाद पता चला कि बालक बंजारा बस्ती गर्रावद का है तब वहां गए तो बालक की माता ने उसे पहचान लिया व बताया कि इसके पिता उसे खेत पर ले गए थे व भूल कर आ गए पुलिस ने बालक को उसकी माता व दादी की सुपुर्द किया उस समय बालक के पिता बुढा गए हुए थे
दिनेश दायमा गर्रावद,रमेश डाँगी ,अर्जुन डाँगी नापाखेडा का भी बालक को उनके परिजनों तक पहुचाने में अच्छा सहयोग रहा।

From around the web

Trending Videos