12 घंटे में हुई 202 मिमी बारिश से शहर हुआ तर बतर

कुछ रास्ते बंद, निचली बस्तियों के घरों में घुसा पानी, मुख्य मार्ग भी हुआ लबालब महासमुंद, 18 जुलाई (आरएनएस)। उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी और इससे लगे तटीय पश्चिम बंगाल-तटीय ओडि़शा के पास बने निम्न दाब के क्षेत्र की वजह से शनिवार दोपहर को हल्की बंूद-बांदी से शुरु बारिश देर रात तेज बारिश में बदल गई।
 

कुछ रास्ते बंद, निचली बस्तियों के घरों में घुसा पानी, मुख्य मार्ग भी हुआ लबालब

12 घंटे में हुई 202 मिमी बारिश से शहर हुआ तर बतर

महासमुंद, 18 जुलाई (आरएनएस)। उत्तर-पश्चिम बंगाल की खाड़ी और इससे लगे तटीय पश्चिम बंगाल-तटीय ओडि़शा के पास बने निम्न दाब के क्षेत्र की वजह से शनिवार दोपहर को हल्की बंूद-बांदी से शुरु बारिश देर रात तेज बारिश में बदल गई। पिछले 12 घंटों में जिले में हुई 302 मिमी बारिश से जिला पानी-पानी हो गया। सर्वाधिक बारिश महासमुंद ब्लॉक में हुई जिससे कई इलाके जलमग्र हो गए। निचली बस्तियों के कई घरों में पानी घुस गया जिससे लोगों को परेशानियों का सामना करना पड़ा।
बाढ़ आपदा विभाग के मुताबिक जिले में मानसून शुुरु होने के बाद यह अब तक की सर्वाधिक बारिश है। जिसमें सबसे अधिक महासमुंद में और सबसे कम पिथौरा ब्लॉक में हुई है। शनिवार देर शाम से शुरु हुई बारिश के बाद रविवार सुबह महासमुंद शहर सहित आसपास के ग्रामीण इलाके जलमग्र हो गए थे। शहर से होकर गुजरे एनएच 353 में त्रिमूर्ति कॉलोनी से लेकर खरोरा तक दोनों सड़क पानी में डूबा रहा आसपास के खेत भी पानी में डूबे हुए नजर आए। इधर, तुमगांव मार्ग भी पूरी तरह से जलमग्र रहा मार्ग में करीब दो फीट तक पानी भरा था जिससे मार्ग में आवाजाही बंद कर दी गई। इधर, चिंगरौद-बम्हनी मार्ग, बरोंडा-लाफिनखुर्द भी बंद है। आसपास के ग्रामीण इलाके भी जलमग्र रहे।
गंजपारा के कई घरों में घुसा पानी
शहर के वार्ड 14 गंजपारा में लगातार हुई बारिश से कई घरों में पानी घुस गया। जानकारी के मुताबिक वार्ड 14 निवासी पूजा साहू के घर के सभी कमरों में पानी घुस गया जिससे रातभर पूरा परिवार परेशान रहा। पूजा ने बताया कि उनके अलावा आसपास के आठ-दस और घरों में पानी घुस गया जिससे वे परिवार भी परेशान रहे। पानी इन घरों के रसोई से लेकर बेडरुम और हाल में घुस गया जिसमें करीब एक फीट तक पानी भर गया फ्रिज, सोफा आदि सामान पानी में आधा डूबा रहा।
सब्जी बाजार, बस स्टैंड बना तालाब
इधर, शहर के बिन्नी बाई सब्जी बाजार और गुरुघासीदास बस स्टैंड भी पानी भरने से तालाब में तब्दील हो गया। इसके चलते बाजार के सब्जी व्यापारियों को काफी परेशानी का सामना करना पड़ा। बस स्टैंड में पानी भरने से यात्रियों को भी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। अंबेडकर चौक में एक मकान क्षतिग्रस्त हो गया। परिवार को बस स्टैंड स्थित रैन बसेरा में ठहराया गया है। बसना में भी एक मकान आंशिक रुप से क्षतिग्रस्त हुआ है।
नदी-नाले, पुराने पुल-पुलियों को पार करते समय एहतियात बरतें : कलेक्टर
महासमुंद। कलेक्टर नीलेश कुमार क्षीरसागर ने जिलेवासियों से अपील करते हुए कहा है कि नदी-नालों, पुराने पुल-पुलिया आदि को पार करते समय एहतियात बरतें। इसके साथ ही आपदा की जानकारी मिलने पर जिला स्तरीय बाढ़ कंट्रोल रूम 07723-223305 में इसकी सूचना दें। यह कंट्रोल रूम चौबीसों घंटे काम कर रहा है।
शनिवार से आज सुबह तक बारिश के आंकड़े (सुबह साढ़े 9 बजे)
तहसील आज की वर्षा 1 से अब तक वर्षा
महासमुंद 202.4 मिमी 669.3 मिमी
पिथौरा 11.4 मिमी 444.8 मिमी
बागबाहरा 35.9 मिमी 275.5 मिमी
सरायपाली 36.6 मिमी 365.1 मिमी
बसना 15.8 मिमी 377.2 मिमी
कुल 302.1 437.9
०००

From around the web

Trending Videos