Follow us

सबंधों की पवित्रता, वफादारी व निश्चलता का नाम है दोस्ती-रँजना साहू

धमतरी, 01 अगस्त (आरएनएस)। मित्रता दिवस जो प्रतिवर्ष अगस्त माह के प्रथम रविवार को मनाया जाता है, के दिवस पर विधायक रंजना साहू द्वारा अपने बचपन के सहेली( दोस्त) रोहिणी से मिलने जब पहुंची तो वातावरण तथा यह क्षण काफी भावनाप्रधान, मानवीय संवेदना से ओतप्रोत एवं गौरवन्वित करने वाला होते हुवे समाज के सारे विभेदो
 

धमतरी, 01 अगस्त (आरएनएस)। मित्रता दिवस जो प्रतिवर्ष अगस्त माह के प्रथम रविवार को मनाया जाता है, के दिवस पर विधायक रंजना साहू द्वारा अपने बचपन के सहेली( दोस्त) रोहिणी से मिलने जब पहुंची तो वातावरण तथा यह क्षण सबंधों की पवित्रता, वफादारी व निश्चलता का नाम है दोस्ती-रँजना साहूकाफी भावनाप्रधान, मानवीय संवेदना से ओतप्रोत एवं गौरवन्वित करने वाला होते हुवे समाज के सारे विभेदो को मिटाने का सार्थक संदेश देते हुवे यह बता दिया कि दोस्ती के लिए जाति,धर्म, अमीर-गरीब, उँच-नीच, छोटा-बडा का कोई भेद नही होता ।जब क्षेत्र के शीर्षस्थ जनप्रतिनिधि होने के बाद भी सादगी ,सरलता व सामान्य व्यक्ति की तरह अपनत्व व प्रेम के साथ श्रीमती साहू शहर के एक नामचीन प्रतिष्ठित होटल में काम कर अपना जीवन यापन करने वाली कक्षा छठवीं एवं सातवीं के स्कूली जीवन मे शिव सिह वर्मा शासकीय कन्या माध्यमिक शाला मे अध्ययनकाल की सहपाठी कोष्टापारा निवासी रोहिणी से गले मिलकर फ्रेंडशिप डे की बधाई देते हुए दोस्ती के इस पवित्र बंधन को हमेशा निभाने की शपथ दोहराई,वहीं रोहिणी ने भी भावुकतापूर्ण स्वर व रूधेकंठ से कहा कि आज के युग में जब व्यक्ति पद, पैसे व प्रतिष्ठा के अहकांर के मद मे चूर-चूर होकर सारे संबंधों को भूल कर दुनिया की चकाचौंध मे मदहोश हो जाता है ,ऐसे में एक विधायक के रूप में रंजना साहू यदि सरलता के साथ अपने बचपन के मुझ जैसे समान्य अपने मित्र को याद कर स्वयं आकर फ्रेंडशिप डे के अवसर पर मित्रता का पवित्र रस्म निभाने यदि मिलती है तो वह वास्तव में दोस्ती की एक अद्भुत मिसाल व उनकी बडप्पनता है यह मेरे लिए गर्व का विषय है कि मेरी सहेली आज क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर रही है मैं हमेशा उसके सलामती व उत्तरोत्तर उन्नति  भगवान से प्रार्थना करती हूं। और लोगो से हमेशा कहती हूँ कि सच्चा दोस्त हमेशा ऐसा ही हो। वही रंजना साहू ने भी कहा कि संबंधों की पवित्रता,वफादारी एवं निश्चलता का नाम है दोस्ती जिसे आज लोग स्वार्थ के चलते खत्म कर रहे हैं।

From around the web

Trending Videos