जिले में तीन कंपनियों के उर्वरक पाये गये अमानक

कृषि विभाग ने अमानक उर्वरकों की बिक्री एवं वितरण पर लगाया प्रतिबंध, कंपनियों को नोटिस जारी कोरबा 19 जुलाई (आरएनएस)। जिले के एक उर्वरक दुकान और एक सहकारी समिति में भण्डारित उर्वरक नमूना विश्लेषण में अमानक पाए गए हैं। उक्त स्थानों में कुल तीन कंपनियों के उर्वरक अमानक पाए जाने पर कृषि विभाग द्वारा उर्वरकों
 

कृषि विभाग ने अमानक उर्वरकों की बिक्री एवं वितरण पर लगाया प्रतिबंध, कंपनियों को नोटिस जारी

कोरबा 19 जुलाई (आरएनएस)। जिले के एक उर्वरक दुकान और एक सहकारी समिति में भण्डारित उर्वरक नमूना विश्लेषण में अमानक पाए गए हैं। उक्त स्थानों में कुल तीन कंपनियों के उर्वरक अमानक पाए जाने पर कृषि विभाग द्वारा उर्वरकों की बिक्री एवं वितरण पर प्रतिबंध लगा दिया गया है। अमानक पाए गए उर्वरकों के लिए संबंधित उर्वरक निर्माता कंपनियों को नोटिस भी जारी कर दिया गया है। उर्वरक कंपनियों को उर्वरक के अमानक पाए जाने के कारण का जवाब प्रस्तुत करने के लिए आदेशित किया गया है। मेसर्स हेमन्त कृषि केन्द्र रलिया कटघोरा में नेशनल फर्टिलाइजर कंपनी के 30.15 टन यूरिया, बीईसी फर्टिलाइजर्स कंपनी के 22.50 टन एसएसपी 16 प्रतिशत एवं आदिम जाति सेवा सहकारी समिति पोड़ी पाली में आईपीएल सीथाकाठी कंपनी के 12.55 टन एमओपी 60 प्रतिशत उर्वरक के जांच नमुने विश्लेषण उपरांत अमानक पाये गये है। विश्लेषण रिपोर्ट के अनुसार आईपीएल सीथाकाठी कंपनी के एमओपी 60 प्रतिशत उर्वरक निर्धारित नमी के अनुसार नही पाये जाने के कारण विश्लेषण में अमानक पाये गये हैं। नेशनल फर्टिलाइजर कंपनी के यूरिया उर्वरक निर्धारित पार्टिकल साइज के अनुसार नही पाये जाने के कारण अमानक पाये गये है। इसी प्रकार बीईसी फर्टिलाइजर कंपनी के एसएसपी 16 प्रतिशत उर्वरक में पोषक तत्व निर्धारित मात्रा में नही पाये जाने के कारण अमानक पाये गये है।
उप संचालक कृषि अनिल शुक्ला ने बताया कि अमानक पाए जाने पर संबंधित कंपनियों को नोटिस जारी किया गया है। साथ ही जिले में अमानक पाये गये लाट के उर्वरकों के भण्डारण एवं वितरण को प्रतिबंधित किया गया है। उन्होने बताया कि किसानों को सही दाम एवं उच्च गुणवत्तायुक्त रासायनिक उर्वरक की उपलब्धता के लिए कृषि विभाग द्वारा समय-समय पर उर्वरक नमुनों को विश्लेषण के लिए रायपुर स्थित प्रयोग शाला भेजा जाता है। उर्वरक निरीक्षकों के द्वारा उर्वरक नमुना विश्लेषण के लिए उपसंचालक कृषि उर्वरक गुण नियंत्रण प्रयोगशाला लाभांडी रायपुर भेजा गया था। भेजे गए नमुनों में से उर्वरकों का विश्लेषण अमानक स्तर के प्राप्त हुए हैं।

From around the web

Trending Videos