आय में वृद्धि के साथ ही रोजगार के अवसर बढ़े, किसानों के सुख में ही आत्मिक खुशी मिलती है-भूपेश बघेल

० बहादूर कलारिन की वफादारी एवं कुत्ते की स्वामी भक्ति दूर दूर तक बालोद की आत्मगाथा को प्रसारित करती है रायपुर, 21 सितंबर (आरएनएस)। बालोद जिले में भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान तीनों विधानसभा में आम जनता से मुलाकात की। बालोद के पत्रकारों से पुराना, गहरा और मित्रवत संबंध, पुराने दुर्ग जिले का हिस्सा होने
 

० बहादूर कलारिन की वफादारी एवं कुत्ते की स्वामी भक्ति दूर दूर तक बालोद की आत्मगाथा को प्रसारित करती है

आय में वृद्धि के साथ ही रोजगार के अवसर बढ़े, किसानों के सुख में ही आत्मिक खुशी मिलती है-भूपेश बघेल
रायपुर, 21 सितंबर (आरएनएस)। बालोद जिले में भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान तीनों विधानसभा में आम जनता से मुलाकात की। बालोद के पत्रकारों से पुराना, गहरा और मित्रवत संबंध, पुराने दुर्ग जिले का हिस्सा होने के कारण भी मैं आपके बहुत करीब हूँ। उक्त बातें भेंट मुलाकात कार्यक्रम के दौरान आयोजित पत्रकारवार्ता में मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने कही। उन्होंने पत्रकारवार्ता में भावविव्हल होते हुए कहा कि उनका बालोद के पत्रकारों से पुराना, गहरा और मित्रवत संबंध, पुराने दुर्ग जिले का हिस्सा होने के कारण भी मैं आपके बहुत करीब हूँ। मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने प्रेस वार्ता में कहा- सबने अपने अनुभव साझा किए। जो दिक़्क़त हुई, उसे भी बताया। लोगों ने बहुत आनंद लिया। कुकुरदेव मंदिर आया। ऐतिहासिक धरोहर सहित देवताओं के दर्शन किये भेंट मुलाकात कार्यक्रम 4 मई से शुरू हुआ। इसका अनुभव शानदार रहा। लोगों की आय में कैसे वृद्धि हो, इस सोच से हमने काम किया। कोरोना के बावजूद भी हम काम करते रहे। हर स्तर में आय में वृद्धि हुई। छत्तीसगढ़ में वो सपना पूरा हुआ। आर्थिक उन्नति के साथ रोजगार के अवसर भी बढ़े। ऐसा मॉडल हमारा मॉडल है जो गांधी जी की सोच पर चलता है। वैश्विक संकट के इस दौर में हमने पूरे देश को राह दिखाई है। जर्जर स्कूलों के लिए 500 करोड़, ग्रामीण औद्योगिक पार्क के लिए 600 करोड़ रुपये का प्रावधान किया गया है । बारिश के बाद सड़कों का संधारण और स्कूलों की मरम्मत का काम शुरू होगा। मुख्यमंत्री ने एक प्रश्न के जवाब में कहा -जब किसान सुखी दिखते हैं तो गौरव का क्षण, बच्चे अंग्रेजी बोलते हैं तो सुख का क्षण। दुख का क्षण तब आया जब कुसुमकसा के एक किसान ने कहा कि पड़ोसी कृषक को फसल बीमा का लाभ मिला। मुझे नहीं मिला। यह नहीं होना था।
इस तरह की शिकायत को तुरंत ठीक करने निर्देश दिए हैं। बालोद के ऐतिहासिक महत्व पर बात करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि -बहादुर कलारिन ने सत्य के लिए अपने बेटे की हत्या की। वफादार कुत्ते का स्मारक आपके ही यहां है। महापाषाण स्मारक आपके यहाँ हैं। इन सभी को सहेजेंगे
-जनता से मिले फीडबैक पर मुख्यमंत्री ने कहा-सभी योजनाओं पर अच्छा काम हो रहा है। मैं लोगों से पूछता हूँ तो वे प्रसन्नता से बताते हैं तो मुझे लगता है कि योजनाएं धरातल पर सार्थकता से उतर रही हैं।
-मुख्यमंत्री ने सुप्रसिद्ध हास्य कलाकार राजू वास्तव के निधन पर शोक जताया। पत्रकार वार्ता के बीच ही मुख्यमंत्री ने कहा कि हम सबका उन्होंने बहुत मनोरंजन किया। देश के लिए और कला जगत के लिए यह बड़ा नुकसान है। राजू वास्तव एक बहुत अच्छे कलाकार थे । उनके परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्यक्त करता हूं। हम सभी को हंसाते हंसाते हुए वे सभी को रुला कर चले गए।
मुख्यमंत्री ने बालोद जिले में हुनरमंद युवाओं के प्लेसमेंट के लिए चलाए जा रहे जिजीविषा कार्यक्रम की प्रशंसा की। कहा हर जिले में ऐसे कार्यक्रम चल रहे हैं। अवैध शराब बिक्री के प्रश्न पर उन्होंने कहा कि ऐसे मामलों में सख्ती से कार्रवाई के निर्देश समीक्षा बैठक में दिए गए हैं।

From around the web

Trending Videos